palmistry

वैदिक ज्योतिष


वैदिक ज्योतिष  एक प्राचीन भारतीय विज्ञानं हे जिसमे समयनुसार ग्रहोंकी स्थिति स्पष्ट होती हे और उसका मनुष्य व अन्य जिवोंपर क्या प्रभाव पड़ता हे इसका अध्ययन किया जाता हे |
वैदिक ज्योतिष शास्त्रमें तारोंका अध्ययन करके हजारो सालोंसे ग्रहोंकी स्थिति का अनुमान लगाया जाता हे और इसमें राशी चिन्हों का भी समावेश हो गया हे |
वैदिक ज्योतिष शास्त्रनुसार १२ राशी चिन्होंके कुल २७ नक्षत्र बने हे जिसमें ९ गृह और १२ गृह हे , हर गृह और गृह मानवी जीवनके पैलू दर्शाते हे |
मनुष्य के जन्मनुसार १२ राशी कुल १२ गृह और ९ गृह में विभाग दिए जाते हे, विविध गृह में स्थित होते हे इसी रचनात्मक स्थितिको जन्मकुंडली कहते हे |
इसी रचनात्मक स्थिति का अर्थ और उसका प्रभाव मनुष्य व इतर वस्तुओंपर कैसे होता हे इसेही वैदिक ज्योतिष शास्त्र मानते हे |

Copyright © 2017 palmistryresearch.com. All rights reserved. Design by Ultraliant Pvt Ltd
Ask Question